अपनाएं ये हेल्थ टिप्‍स और नवरात्र व्रत में रहें फिट | 98Fit

अपनाएं ये हेल्थ टिप्‍स और नवरात्र व्रत में रहें फिट

फेस्टिव सीज़न अपने पूरे रंग में है और इसी महीने नवरात्र भी शुरू होने जा रहे हैं। इस दौरान मां दुर्गा में आस्था और श्रद्धा रखने वाले लोग व्रत रखते हैं जिससे उनका शरीर शुद्ध हो और उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़े। हालांकि इस दौरान लगातार किए जाने वाले व्रत से आपकी सेहत पर बुरा असर भी पड़ सकता है, इसलिए हम आपको हेल्थ टिप्‍स बताएंगे जिन्हें अपनाने से व्रत रखने के दौरान आपका शरीर सेहतमंद रहेगा।

1. भूखें नहीं रहें

व्रत के दौरान ध्यान में रखने वाली सबसे महत्वपूर्ण बात यह होती है कि आपको कुछ भी नहीं खाने के चक्कर में इन दिनों भूखे नहीं रहना चाहिए। आपको कम समय के अंतराल में थोड़ा-थोड़ा फलाहार करते रहना चाहिए जिससे आपको एसिडिटी ना हो और आपका ब्लड शुगर लेवल भी सही मात्रा में रहे। फलाहार या व्रत का खाना जितना हल्का होगा उतना ही सेहत के लिए फायदेमंद होगा जैसे कुट्टू की पूरी या पकौड़ों की जगह व्रत के चावल खाएं। वहीं, जब भी रोटी बनाकर खाएं तब साथ में दही ज़रूर लें क्योंकि कुट्टू की तासीर बहुत गर्म होती है। गौरतलब है कि ककड़ी, खीरे और आलू का सलाद का दिनभर में 2-3 बार सेवन किया जा सकता है। इन चीज़ों में पानी की मात्रा अधिक होती है जो शरीर में पानी की कमी की पूर्ती करती है। स्ट्रॉबेरी ड्रेसिंग के साथ फलों का सलाद भी बेहद स्वादिष्ट होता है। इस सलाद को स्ट्रॉबेरी ड्रेसिंग बनाने के लिए स्ट्रॉबेरी जैम का इस्तेमाल किया जा सकता है। ध्यान रखने वाली बात है कि खाली पेट में यह डाइट हल्की मील का काम करती है।safe_image-29

2. पौष्टिक आहार का ही सेवन करें

नवरात्र आहार में तमाम तरह के पोषक तत्वों का होना ज़रूरी होता है जैसे प्रोटीन, वसा, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन और मिनरल। व्रत के दौरान सेहतमंद रहने के लिए आहार का सही होना बहुत ज़रूरी है। हम व्रत के दौरान किसी विशेष पोषक तत्व की अनदेखी करेंगे तो इसका असर हमारी सेहत पर पड़ सकता है। आप पपीता, सेब, अनार और नाशपाती जैसे फलों का सेवन करें जिससे आपको उचित मात्रा में पैष्टिक तत्व मिलेंगे और आपको भूख भी कम लगेगी। पपीते जैसे फल सुपाच्य होते हैं और शरीर को ऊर्जा भी देते हैं। उपवास के दौरान बादाम भी बहुत ही लाभदायक होते हैं। रात को बादाम भिगोकर रख दें और सुबह बादाम का छिलका उतारकर उनमें मिश्री मिलाकर पीसें। इस मिश्रण को गुनगुने दूध के साथ खाने से शरीर में ताकत बनी रहती है और भूख कम लगती है। इससे उपवास में आराम से रहा जा सकता है जो शरीर को मिनरल की पर्याप्त मात्रा प्रदान करता है। गौरतलब है कि बादाम के सेवन करने से शरीर के विषाणु नष्ट हो जाते हैं तथा स्फूर्ति बनी रहती एवं स्मरण शक्ति का विकास होता है। Navratri Diet for Weight Loss | 98Fit

Navratri Diet for Weight Loss | 98Fit

3. तरल पदार्थ का रखें खासा ध्यान

व्रत के दिनों में 6 से 8 गिलास पानी कम-से-कम पिएं। अगर इतना पानी पीने में दिक्क्त होती है तो ऐसे फल खाएं जिसमें पानी की मात्रा अधिक हो जैसे तरबूज़ और नारियल। वहीं, दही, दूध, छाछ ज़्यादा लें, तो वहीं सब्ज़ियों में घीया, सीताफल क्योंकि इन्हें पचाना आसान होता है और साथ ही इनमें न्यूट्रिशन की मात्रा भी ज़्यादा रहती है। ड्रिंक्स पर अधिक फोकस करके चलें। यह बॉडी को रिफ्रेश कर देगा। जैसे नींबू पानी पीने से शरीर में स्फूर्ति रहती है और आलस्य दूर होता है, साथ ही पाचन क्रिया अच्छी रहती है। नवरात्रि में उपवास के दौरान खाना कम मात्रा में होने से नीबूं शर्बत एसिडिटी से बचाता है। तरल पदार्थ के सेवन के वक्त फुल क्रीम दूध के सेवन से बचें क्योंकि वह आपको आलसी और थका हुआ बनाने के साथ-साथ आपका वजन भी बढ़ता है। अधिक गरिष्ठ भोजन आपकी  सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। टमाटर, सेब और अदरक जैसे पदार्थों में विटामिन ए, बी और सी मौजूद होता है। इनमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट कैंसर जैसी बीमारियों से भी बचाने में मददगार साबित होता है। सब्ज़ियों के जूस शरीर में पोषक तत्वों की कमी नहीं होने देते। safe_image-30

4. ऐसे बचें फैट से और लें पौष्टिक डाइट

अगर आप कुट्टू के आटे की पूरी, पकौड़े, नमकीन, चिप्स जैसी चीज़ें खाएंगे तो वे बेहद स्वादिष्ट लगेंगी लेकिन स्वास्थ के लिए उतनी ही हानिकारक होती हैं। चाहे कैलोरीज़ के नज़रिए से देखें या इनमें इस्तेमाल की गई सामग्री के हिसाब से, तली हुई चीज़ें खाली पेट में हानिकारक होती हैं। लौकी का हलवा, मेवा पाग, सूखे मेवे की बर्फी, श्रीखंड, लौकी की खीर, नारियल के लड्डू, शाही आलू का हलवा, मखाने की खीर आदि खाई जा सकती हैं पर इनका सही तरिके से सेवन आपको फैट से बचा सकता है। शाही आलू हलवा खाने में तो बेहद स्वादिष्ट होता है, लेकिन इसमें कैलोरीज़ काफी मात्रा में मौजूद होती हैं। वहीं नारियल बर्फी आप खा सकते हैं लेकिन उसमें शुगर की मात्रा कम रखें। खास तौर पर तले हुए खाने का परहेज करें तो आपके स्वास्थ्य को बहुत ही लाभ होगा जैसे- चिप्स, पकौड़ी, पूरी का कम-से-कम प्रयोग किया जाए और तेज़ मशालों के सेवन से बचें तो तन और मन स्वस्थ्य और प्रसन्न रहेगा। अधिक परिश्रमी व्यक्ति और गर्भवती महिलाएं नौ उपवास नहीं रखें। ऐसे व्यक्ति अगर व्रत रखते भी हैं तो उनके लिए अधिक खान-पान की व्यवस्था होनी चाहिए और उन्हें भूखा नहीं रहना चाहिए। NavrNavratri Diet for Weight Loss | 98Fitatri Diet & Tips for Weight Loss | 98Fit

अधिक जानकारी के लिए और पूरे 9 दिन नवरात्र आहार योजना, यहां क्लिक करें।

Add comment