navratri-special-thali-haldiram

नवरात्री व्रत के खाने की सबसे बेहतर और पौष्टिक रेसिपी

इस नवरात्री बदलें अपने खाने का मेन्यू, आज़माएं ये पांच नए पौष्टिक और लज़ीज़ व्यंजन

इस साल शारदीय नवरात्रि 18मार्च से शुरू हो रही है जो 26 मार्च तक चलेगी। इस दौरान भगवान में आस्था रखने वाले करोड़ों लोग मां दुर्गा के नाम पर व्रत भी रखते हैं। इन दिनों भारतीय घरों में अमूमन लोग व्रत के खाने के रूप में आलू के रायते और साबूदाने की खिचड़ी से लेकर कुट्टू की पकौड़ी जैसे व्यंजन ही बनाते हैं। अगर आप हर नवरात्र में एक ही तरह के व्यंजन के सेवन से ऊब गए हों तो इस नवरात्र ये नए पांच लज़ीज़ व्यंजन से अपने मुंह का स्वाद भी बदल सकते हैं जो स्वास्थ्य की दृष्टि से भी पौष्टिक हैं।यहां नवरात्रि भोजन योजना की जाँच करें।

1. कुट्टू के आटे का डोसा

सामग्री:

3 उबले हुए आलू, एक छोटा चम्मच मिर्च पाउडर, आधा छोटा चम्मच अजवायन, आधा छोटा चम्मच अदरक कद्दूकस की हुई, स्वादानुसार सेंधा नमक, घी, 5 बड़े चम्मच कुट्टू का आटा, 2 उबली हुई अरबी, मूंगफली, कड़ी पत्ता और 2 बारीक कटी हरी मिर्च

बनाने की विधि:

आलू का भरावन बनाने की विधि

उबले आलू छीलकर उन्हें मैश कर लें। एक पैन में घी गर्म करें और उसमें आलू डालकर फ्राई करें। इसके बाद आलू में अदरक, लाल मिर्च पाउडर और सेंधा नमक डालकर मिक्स करें। इन आलुओं को 4 से 5 मिनट तक मध्यम आंच पर चलाते रहें और फ्राई करें।

कुट्टू का डोसा बनाने की विधि

सबसे पहले उबली हुए अरबी अच्छी तरह मैश करें और फिर उसमें कुट्टू का आटा और नमक मिक्स कर लें। इसके बाद इसमें थोड़ा पानी मिलाकर आटा और अरबी अच्छे से फेंट लें। अब जो मिश्रण तैयार हुआ हो उसमें अजवायन, लाल मिर्च पाउडर और हरी मिर्च मिलाकर, एक बार फिर फेंट कर न ज़्यादा गाढ़ा और न ज़्यादा पतला डोसे का घोल तैयार कर लें। एक नॉन-स्टिक तवा गर्म कर उस पर चारों तरफ थोड़ा घी लगाएं। अब एक बड़े चम्मच से तवे पर डोसे का घोल डालकर, चम्मच से तवे पर गोल आकर में पतला फैलाएं। डोसे का रंग हल्का ब्रॉउन होने तक सेकें। इसके बाद उसके चारों तरफ किनारे पर घी डालकर डोसा पलट लें और दूसरी तरफ से भी घी लगाकर सेंक लें। अब डोसे पर फ्राइड आलू का भरावन रख कर, उसे फोल्ड करें और एक प्लेट में रख लें। एक कटोरी में दही के ऊपर मूंगफली और कड़ी पत्ता सजाएं और फिर डोसे के साथ उसका सेवन करें।    Top 10 Healthy Navratri Vrat Recipes | 98Fit

2. केले और अखरोट की लस्सी

सामग्री:

1 कप दही, आधा केला, 3 से 4 अखरोट, 1 चम्मच बीज (फ्लैक्‍स सीड), 1 से 2 चम्मच शहद

बनाने की विधि:

एक मिक्‍सी में दही, फ्लैक्‍स सीड, अखरोट, शहद और केले डालें। इसे तब तक ब्‍लेंड करें जब तक कि यह पूरी तरह से स्‍मूथ ना बन जाए। इस तरह से तैयार हुई लस्सी को कटे अखरोट से सजाएं और इसका सेवन करें। safe_image-8

3. साबूदाने की नमकीन

सामग्री:

1  कटोरी साबूदाना, 1 कटोरी मूंगफली, आधा कटोरी सूखा नारियल (टुकड़े लम्बे-लम्बे और पतले), 15-20 बादाम, 1 छोटा चम्मच सेंधा नमक, 1  छोटा चम्मच काली मिर्च पाऊडर, कड़ी पत्ता और तेल

बनाने की विधि:

सबसे पहले साबूदाने में थोड़ा-सा पानी डालकर उन्हें 5-10 मिनिट तक ऐसे ही रखेंगे ताकि वे थोड़े नरम हो जाएं। इसके बाद तेल गर्म करके इन साबूदानों को 5-7  मिनट तक  धीमी-धीमी आग पर सकेंगे। इन्हें थोड़ा कुरकुरा होने तक तलेंगे और ऐसा तब होगा जब ये तेल के ऊपर आ जायेंगे। यह होने के बाद, मूंगफली के दानों को भी धीमी-धीमी आंच पर तलेंगे और फिर उन्हें थोड़ा भूरा रंग होने पर निकाल लेंगे। इसी तरह नारियल के टुकड़ों को और बादाम को भी अलग-अलग तल लेंगे। इन तली हुई चीज़ों को एक बर्तन में डालकर और उस पर मिर्च पाउडर, सेंधा नमक और कड़ी पत्ता अच्छी तरह से मिला लेंगे। इस तरह से साबूदाने की नमकीन बनकर तैयार हो जाएगी। sabudana-namkeen-recipe-14. पनीर-सिंघाड़े के दही बड़े

सामग्री:

आधा कप पनीर, 1 कप सिंघाड़े का आटा, 1 कप उबले मैश आलू, 1 चम्मच अदरक पिसा हुआ, पाव कटोरी दरदरे पिसे काजू, 1 बारीक कटी हरी मिर्च, 2 कप फेंटा दही, सेंधा नमक, शक्कर, जीरा पावडर, स्वादानुसार अनारदाने और तेल

बनाने की विधि:

सबसे पहले पनीर को कद्दूकस करके उसमें आलू, हरी मिर्च, किशमिश, काजू, अदरक और सेंधा नमक मिला लें। इस मिश्रण के छोटे-छोटे गोले बना लें। इसके बाद सिंघाड़े के आटे का घोल बनाएं। अब पहले तैयार किए बड़ों को इस घोल में डुबोकर गरमा-गरम तेल में सुनहरा रंग होने तक तल लें। वहीं, एक तरफ दही में शक्कर मिला लें। अब तैयार किए बड़ों को एक प्लेट में दही, जीरा पाउडर और अनारदाने के साथ सजाकर परोसें।   img_2963-950x6335. सिंघाडे  का शाही हलवा

सामग्री:

एक कटोरी सिंघाडे का आटा, 1/4 कटोरी चीनी, 100 ग्राम घी, 8-10  बादाम

बनाने की विधि:

सबसे पहले एक छोटी कढ़ाई में घी को गर्म करें और फिर उसमें सिंघाडे का आटा डालकर धीमी आंच पर सेकें। इस आटे का रंग भूरा होने तक इसे सेकना है। इसके बाद इसमें दो ग्लास पानी डालकर कुछ मिनटों तक चलाएं। जब पानी पूरी तरह से सूख जाए और हलआ कढ़ाई से अलग हो जाए (कढाई से चिपके नहीं) तब उसमें चीनी डालें और फिर थोड़ी देर तक चलाएं बड़े चम्मच से उस मिश्रण को चलाएं। 5-6 मिनट के बाद गैस को बंद करदें और हलवे को एक बर्तन में निकाल लें। बादाम के छोटे -छोटे टुकड़े करके हलवे के ऊपर सजा दें और फिर इस शाही हलवे का सेवन करें।singhade-ka-halwa

अब से हर नवरात्र  बाज़ार में मिलने वाले तरह-तरह के ‘पैक्ड फूड’ से बचें। साथ ही, ऊपर बताए गए व्यंजनों को घर पर ही बनाकर सभी घरवालों और दोस्तों के मुंह का स्वाद बदलें और स्वस्थ रहें। अधिक जानकारी के लिए, इस नवरात्रि आहार 98Fit द्वारा दिए गए योजना की कोशिश करे।

Add comment